हमारा अनुसरण करें : facebook twitter linkedin Instagram
REC Limited

मीडिया लाउंज

आरईसी को एसोचैम ने 'विविधता और समावेश में सर्वश्रेष्ठ नियोक्ता' पुरस्कार से सम्मानित किया
तारीख 23-11-2023

गुरुग्राम, 23 नवंबर 2023: आरईसी लिमिटेड, विद्युत मंत्रालय के अंतर्गत एक महारत्न कंपनी है, जिसे बुधवार को एसोचैम द्वारा आयोजित चौथे विविधता और समावेश उत्कृष्टता पुरस्कार और सम्मेलन में 'समृद्धि और समावेश में नीतियों के सर्वश्रेष्ठ नियोक्ता' पुरस्कार से सम्मानित किया गया। 23 नवंबर को दिल्ली में आयोजित पुरस्कार समारोह में श्री टी.एस.सी बोष, आरईसी लिमिटेड, कार्यपालक निदेशक ने आरईसी की ओर से इस सम्मान को स्वीकार किया।

यह सम्मान पारंपरिक मानदंडों से परे समावेशी नीतियों को तैयार करने में आरईसी की अनुकरणीय प्रयोग का एक प्रमाण है। अपने कार्यबल में विविधता को अपनाने के लिए कंपनी का समर्पण उसकी विचारशील नीतियों में प्रतिबिंबित होता है, जो उद्योग में एक सराहनीय मानक स्थापित करता है।

इस मौके पर श्री बोष  ने कहा "हमें इस पुरस्कार को प्राप्त होने पर गर्व है, जो आरईसी के समावेश और हमारे संघर्षमय प्रयासों को दर्शाता है कि हम विविधता को मूल्य देने वाले कार्यस्थल को बनाने में जुटे हैं। यह सम्मान हमें यहाँ से आगे बढ़ने के लिए प्रेरित करेगा, ताकि हम अपने संगठन के हर पहलू में विविधता और समावेश का प्रचार करते रहें।"

"विविधता और समावेशन में नीतियों के लिए सर्वश्रेष्ठ नियोक्ता" पुरस्कार एक ऐसा कार्यस्थल बनाने की दिशा में आरईसी की प्रतिबद्धता को दर्शाता है जो विभिन्न मतों को स्वीकार कर, नवाचार को बढ़ावा देते हुए, सभी कर्मचारियों के लिए समान अवसरों को बढ़ावा देता है।

आरईसी के प्रबंधन और मानव संसाधन कार्य ने इस मील के पत्थर को हासिल करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है। कंपनी को कॉर्पोरेट परिदृश्य में विविधता और समावेशन का प्रतीक बनाने की दिशा में आगे बढ़ाने के लिए उनका समर्पण और रणनीतिक दृष्टिकोण सराहना का पात्र है।

हाल ही में, आरईसी को उत्कृष्ट प्रदर्शन के लिए जोखिम प्रबंधन में 'गोल्डन पीकॉक पुरस्कार' से सम्मानित किया गया, जो कि निदेशक संस्थान इंस्टिट्यूट ऑफ डायरेक्टर्स (आईओडी) द्वारा प्रदान किया गया था। इसके अलावा, कंपनी को 2023 में डन एंड ब्रैडस्ट्रीट पीएसयू पुरस्कार में 'सर्वश्रेष्ठ केंद्रीय सार्वजनिक क्षेत्रीय उपक्रम' पुरस्कार प्रदान किया गया था।

आरईसी लिमिटेड, विद्युत मंत्रालय के अंतर्गत आने वाला एक महारत्न सीपीएसई है, जिसकी स्थापन 1969 में हुई थी। यह विद्युत अवसंरचना क्षेत्र के लिए दीर्घकालिक ऋण और अन्य वित्त उत्पाद प्रदान करता है जिसमें उत्पादन, ट्रांसमिशन, वितरण, नवीकरणीय ऊर्जा, इलेक्ट्रिक वाहन, बैटरी स्टोरेज, हरित हाइड्रोजन जैसी नई प्रौद्योगिकियां शामिल हैं। हाल ही में आरईसी ने गैर-विद्युत अवसंरचना क्षेत्र में भी विविधता प्रदान की है, जिसमें सड़क एवं एक्सप्रेरसवे, मेट्रो रेल, हवाई अड्डा, आईटी संचार, सामाजिक एवं वाणिज्यिक अवसंरचना (शैक्षिक संस्थान, अस्पताल), बंदरगाह एवं इस्पात, रिफाइनरी आदि जैसे विभिन्न अन्य क्षेत्रों में इलेक्ट्रो-मैकेनिकल (ई एंड एम) कार्य शामिल हैं। आरईसी की लोन बुक 4,74,275 करोड़ रुपये से ज्यादा है।

पृष्ठ को अंतिम बार अद्यतन किया गया: 17/05/2024 - 10:26 PM
  • आगंतुकों की संख्या :