हमारा अनुसरण करें : facebook twitter linkedin Instagram
REC Limited

मीडिया लाउंज

आरईसी ने ₹3,773 करोड़ के साथ दर्ज किया अपना अब तक का सबसे अधिक तिमाही मुनाफा
तारीख 01-11-2023

 

मुंबई/नई दिल्ली, 01 नवंबर, 2023: आरईसी लिमिटेड ने 30 सितंबर 2023 को समाप्त दूसरी तिमाही और छमाही की अवधि के लिए अपने अलेखापरीक्षित वित्तीय परिणामों (स्टैंडअलोन) की घोषणा की है।

परिचालन और वित्तीय हाइलाइट्स - Q2 FY24 बनाम Q2 FY23 (स्टैंडअलोन)

  • मंजूरी: ₹1,04,366 करोड़ बनाम ₹84,889 करोड़, 23% अधिक, इसमें नवीकरणीय क्षेत्र का हिस्सा 24% है।
  • डिसबर्समेंट: ₹41,598 करोड़ बनाम ₹17,827 करोड़, 133% अधिक
  • ऋण परिसंपत्तियों पर ब्याज आय: ₹ 11,213 करोड़ बनाम ₹ 9,534 करोड़, 18% अधिक
  • शुद्ध लाभ: ₹3,773 करोड़ बनाम ₹2,728 करोड़, 38% अधिक
  • कुल व्यापक आय: ₹4,188 करोड़ बनाम ₹1,915 करोड़, 119% अधिक

परिचालन और वित्तीय हाइलाइट्स -H1 FY24 बनाम H1 FY23 (स्टैंडअलोन)

  • मंजूरी: ₹1,95,163 करोड़ बनाम ₹1,44,784 करोड़, 35% अधिक, नवीकरणीय क्षेत्र का हिस्सा 26% है।  
  • डिसबर्समेंट: ₹75,731 करोड़ बनाम ₹30,269 करोड़, 150% अधिक
  • ऋण परिसंपत्तियों पर ब्याज आय: ₹21,678 करोड़ बनाम ₹18,796 करोड़, 15% अधिक
  • शुद्ध लाभ: ₹6,734 करोड़ बनाम ₹5,176 करोड़, 30% अधिक
  • कुल व्यापक आय: ₹7,331 करोड़ बनाम ₹3,690 करोड़, 99% अधिक

एसेट क्वालिटी में सुधार, उधार दरों में वृद्धि और वित्त लागत के प्रभावी प्रबंधन के कारण, आरईसी ने ₹3,773 करोड़ का अपना अब तक का सर्वाधिक तिमाही लाभ दर्ज किया है। परिणामस्वरूप, 30 सितंबर 2023 को समाप्त तिमाही के लिए प्रति शेयर वार्षिक आय बढ़कर ₹51.14 प्रति शेयर हो गई, जबकि 30 सितंबर 2022 को यह ₹39.32 प्रति शेयर थी।

मुनाफे में वृद्धि के कारण, 30 सितंबर 2023 तक नेट वर्थ बढ़कर ₹ 63,117 करोड़ हो गई है, जो साल-दर-साल 18% की वृद्धि है।

कंपनी की लोन बुक ने अपनी विकास यात्रा को कायम रखा है और 30 सितंबर 2022 के ₹ 3.94 लाख करोड़ के मुकाबले 20% बढ़कर लोन बुक ₹ 4.74 लाख करोड़ तक पहुँच गई है। संपत्ति की गुणवत्ता में सुधार का संकेत देते हुए 30 सितंबर 2023 तक नेट क्रेडिट-इंपेयर्ड एसेट्स घटकर 0.96% हो गए हैं (एनपीए परिसंपत्तियों पर 69.37% के प्रोविजन कवरेज रेशियो के साथ)।

कंपनी का पूंजी पर्याप्तता अनुपात (सीआरएआर) 30 सितंबर 2023 तक 28.53% पर है, जो भविष्य के विकास को समर्थन देने के पर्याप्त अवसर का संकेत देता है।

अपने शेयरधारकों को पुरस्कृत करने की परंपरा को जारी रखते हुए, कंपनी के निदेशक मंडल ने ₹3.50 प्रति इक्विटी शेयर (प्रत्येक ₹10/- के अंकित मूल्य पर) का दूसरा अंतरिम लाभांश घोषित किया है और दूसरे अंतरिम लाभांश के भुगतान के लिए 13 नवंबर 2023 को रिकॉर्ड तिथि के रूप में तय किया गया है। वित्त वर्ष 23-24 के लिए कुल अंतरिम लाभांश ₹6.50 प्रति इक्विटी शेयर है (प्रत्येक ₹10/- अंकित मूल्य पर)।

 

पृष्ठ को अंतिम बार अद्यतन किया गया: 17/05/2024 - 10:26 PM
  • आगंतुकों की संख्या :